यति उसी जगह का महंत बताया जा रहा है जहाँ पानी पीने पर मुस्लिम लडकें की कथित तौर पर पीटाई की गई थी

अहमदाबाद, गुजरात : देश में इक तरफ कोरोना ने हाहाकार मचाया है तो दुसरी तरफ अपनी कट्टरवादी सोच के चलते कुछ लोग दो कोमों के बीच नफरत के बीज बो रहे है। दो-तीन दीन पहलें प्रेस क्लब ऑफ इन्डिया में इक प्रेस वार्ता का आयोजन कीया गया था जिसमें युपी के गाजियाबाद के महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती उनके साथ बैठे लोगों के सामने प्रेस से बात करते हुए इस्लाम मजहब पर और पैगम्बरे इस्लाम के खिलाफ काफी जहर उगला था।

अहमदाबाद के पटवाशेरी इलाके में रहनेवालें समीर कुरैशी, शकील शेख, मुसद्दीक शेख, जावीद शेख और फजल शेख ने भी आज कारंज थाने के पुलीस इन्सपेकटर तडवीसाहब से मील कर नरसिेहानंद के खिलाफ शिकायत की जिसमें नरसिंहानंद की फौरन गिरफतारी कर उसके खिलाफ कानुनी कार्रवाई करने की मॉँग की है।

नरसिंहानंद का विडीयो वाइरल होते ही पूरे देश में उसके खिलाफ मुसलमानों का गुस्सा फूट रहा है और भारत के कई शहरो में अब तक इस यति के खिलाफ शिकायतें की जा चुकी है। मजलीस ए इत्तेहादुल मुस्लेमीन के सरपरस्त असदुद्दीन उवैसी ने इस नापक हरकत के खिलाफ बोलते हुए कहा कि “पैगम्बरसाहब का अपमान हम कीसी हाल में बरदास्त नहीं कर सकते और दिल्ली पुलीस को कहा कि यह शख्स मुस्लिमों के खिलाफ लोगों को भडका रहा है और आप का इस मामले में चूप रहना शर्मिँदा करनेवाला है।” दिल्ली आप के नेता अमानतुल्लाखान ने भी इस भाषा-व्यवहार पर कडी आपत्ति जताते हुए पुलीस को प्राथमिकी दर्ज करने के लिए ज्ञापन दीया है और मुँबई की रजा एकेडमी ने भी नरसिंहानंद के खिलाफ FIR दर्ज करवाई है।

दिल्ली आप के विधायक अमानतुल्लाखान नरसिंहानंद के खिलाफ थानें शिकायत दर्ज कराने पहुँचे