जमालपुरकी वसुली केसमें वोन्टेड जमीला को 4 गुर्गोके साथ क्राईम ब्रांचने किया गिरफ्तार

0
794

अहमदाबाद, गुजरात : देश में जब से RTI एक्ट आया है तब से लोगों को इससे काफी मदद मीली है लेकिन दुसरी तरफ यह कानुन कुछ लोगों के लिये वसुली एवम उगाही का जरीया भी बन गया है। गुजरात में ओर खास कर अहमदाबाद में कई अैसे लोग आप को देखने को मील जायेंगे जो छोटे बिल्डर्स को ओर व्यापारीयों को किसी भी तरह से डरा धमका कर पैसों की उगाही करते है जिसमें तथाकथित पत्रकार भी होते है जिन्हें पत्रकारिता से दूर-दूर का वास्ता नहीं होता लेकिन वे RTI के नाम पर या न्यूजपेपर के नाम पर लोगों से वसुली करते है।

अहमदाबाद क्राईम ब्रांच के पुलीस इन्सपेक्टर श्री एम.एस.त्रिवेदी की टीम के सब इन्सपेक्टर श्री वी.के.देसाइ ओर उनकी टीम ने जमालपुर ईलाके की इक महिला 59 वर्षीय जमीला मेनपुरवाला को उसके गिरोह के 4 लोगों समेत भरूच से गिरफ्तार किया है जिस पर आरोप है कि वे RTI के नाम पर छोटे बिल्डर्स को ओर व्यापारीयों को डरा धमका कर पैसों की उगाही करती थी। जमीला अपने गुर्गो के साथ गायकवाड हवेली थाना क्षेत्र के अलग-अलग ईलाको में लोगों को कन्सट्रक्शन करते समय परेशान करती थी ओर गलत अरजी कर कारोबार बंद करवाने की धमकी देती थी। FIR के मुत 20 से ज्यादा व्यापारीयों ने अभी तक उससे डर कर हजारों रूपये उसे दे दीये है ।

जमीला के खिलाफ गायकवाड हवेली थाना क्षेत्र में दो मामले दर्ज है। पहला मामला मासुमखान पठान नामी शख्स का है जिससे जमीलाने एक लाख रूपये फिरौती के तौर पर माँगे थे जिसमें से अठरह हजार उन्होंने दे दीये ओर बाकी के पैसे देने के लिये वो जोर कर रही थी जिसके बाद फरियाद करनेवालें ने थाने में तहरीर दर्ज करवाई थी। दुसरा मामला खारावाला डहेला में रहनेवाले महेमूदभाई मकरानी का है जिन्होंने अपने पुराने मकान में रिनोवेशन शूरू किया तब जमीला अपने गुर्गो को ले कर वहाँ पहुँची ओर कहने लगी कि “किसकी परमीशन से यह काम शूरू किया ओर हमारे इलाके में काम करना हो तो हफ्ता देना होगा”। इस फरियादी से भी उसने 1,38,000 रूपये वसुले थे।

जमीला मेनपुरवाला ओर उसके गिरोह के 65 वर्षीय हारुन रशीद मेनपुरवाला, 32 वर्षीय वसीम मेनपुरवाला, 30 वर्षीय सोहेल उर्फ पोपट मेनपुरवाला एवम् 25 वर्षीय मिस्बाह मेनपुरवाला के खिलाफ हवेली थाना क्षेत्र में जो मामले दर्ज थे उसमें यह चारों वोन्टेड थे अब क्राईम ब्राँच ने इन्हें पकड लीया है ओर आगे की कानुनी कार्रवाई शूरु कर दी है।